Home इंदौर सीबी सिंह की दबंगई से अवैध शराब का कारखाना क़ानूनी बोतल में...

सीबी सिंह की दबंगई से अवैध शराब का कारखाना क़ानूनी बोतल में बंद :पूर्व मंत्री रंजना बघेल के गांव क्षेत्र में चल रहा था धड़ल्ले से अवैध कारोबार

1221
71
SHARE

पुलिस ने कार्यवाही की तो आबकारी अधिकारी मनोज राठौर क्या मक्खियां उड़ा रहा था?
————————————————-

✍🏽सोमेश्वर पाटीदार-प्रधान संपादक👁
📞…9589123578

👉🏻7000 माह में मकान किराये पर लिया।
👉🏻लगभग 1 माह में स्थान परिवर्तन।
👉🏻बाइक से भी सप्लाय।
👉🏻जिस कंपनी की डिमांड हो बनाते थे।
👉🏻पेकिंग के भी मास्टर असली लगती।
👉🏻लेबल प्रिंट करने वाले की जाँच।
👉🏻जहरीली तो नही, शराब की भी लेब पर जाँच।
👉🏻कार मालिक पर भी कार्यवाही, तलाश।
👉🏻कार्यवाही के दौरान बढ़ सकती है धाराएं।

*इंदौर/कुक्षी।*धार जिले के कुक्षी पुलिस थाना अंतर्गत 4 दिनों में दूसरा बड़ा खुलासा करते हुए पुलिस ने अवैध रुप से संचालित शराब के बड़े कारखाने पर कार्यवाही करना बताया। पुलिस के अनुसार मुखबिर की सूचना पर ग्राम ढोल्या के ढोलगढ़ में एक बाड़े में मशीन चलने की आवाज़ सुनाई दी जिसे टीम द्वारा घेराबंदी कर पकड़ा गया। जहाँ से करीब 8 लाख 15 हजार 1 सौ रूपये की शराब जिसमें 140 पेटी शराब,10 नग सफेद केन शराब भरी, 5 केन स्प्रीट, 2000 नग सफेद कार्टून, 58 नग प्लास्टिक की कैरेट, एक लोहे की बोतल सीलिंग मशीन,2 बोरा एल्युमिनियम के ढक्कन, 10 नग प्लास्टिक की खाली केन, टेक्समो कंपनी का एक हास पॉवर का विद्युत पम्प, एक कार्टून में किंग विस्की व एक में बॉम्बे स्पेशल विस्की के लेबल, 2 नीले रंग के ड्रम, एक बंडल होलोग्राम, एक पेटी में हाइड्रोमीटर, थर्मामीटर, डेनसिटी मीटर, एक 500एमएल का कांच का जार, 2 सिंटेक्स की टंकी, एक 5 लीटर की केन में 2 लीटर शराब का कलर, एक सफ़ेद कलर की हौंडा सिटी कार क्रमांक MP04CA2360 में 13 स्प्रीट की केन मौके से जप्त किया।

*असल आरोपी व इनको ऊर्जा देने वाले हरामखोर अब भी दूर*

निश्चित रूप से कुक्षी पुलिस की सराहनीय कार्यवाही रही फिर भी, अब तक जो गिरफ्त में है यह तो सिर्फ कर्मचारी या अदने लोग लग रहे, लेकिन प्रमुख रूप से इस अवैध कारोबार को पनपाने वाले सेठ और उनको इस धंधे को बेख़ौफ़ संचालित करने की ऊर्जा प्रदान करने वाले सफ़ेदपोस रसूखदार अब भी पुलिसिया शिकंजे से बहार है। जिस दिन ऐसे हरामखोरो को व उन्हें ऊर्जा देने वालों को सलाखों के पीछे डाला जाएगा। उस दिन से ऐसे बड़े काले कारनामें करने से अपराधी घबराएगा क्योकि उनके माय-बाप ही ठिकाने लग जायेंगे तो उनकी क्या औकात।

*आबकारी अधिकारी पर उठता सवाल*

पुलिस ने तो लगातार कार्यवाही करते हुए अवैध कारखाने को ध्वस्त कर दिया, पर सवाल उठ रहा संबंधित आबकारी विभाग कुक्षी के अधिकारी मनोज राठौर पर कि, इतना बड़ा अवैध कारखाना बेख़ौफ़ संचालित हो रहा था तो खुद कार्यवाही क्यों नही कर पाए? इसे लापरवाही या निजी लाभ की श्रेणी में देखा जाये?

*नकली शराब बनाते हुए यह आरोपी धराये*

जीतूसिंह पिता भूरिया(38) ढोलगढ़, मुकेश पिता नत्थू सिंह मीणा (25) बड़वाह, सुनील उर्फ़ गोलू पिता प्रेमसिंह बंजारा(21) गोबरीखेड़ा, संतोष भवरलाल दांगी(21) सोनकच्छ, ओमप्रकाश रोडिलाल(20) सोनकच्छ, अनिल शिवनारायण(20) परसुलिया जिन्हें घटना स्थल से गिरफ्तार कर थाना कुक्षी लाया गया। इसके अलावा मौके से राजेश गुर्जर टोंगसर, कमलेश भिलाला चिकली अँधेरे का फायदा उठा कर फरार हो गए। उक्त सभी आरोपियों के विरुद्ध अपराध धारा 34(2) आबकारी एक्ट का कायम कर विवेचना में लिया गया।

*नगद राशी से पुरस्कृत करने की घोषणा, ये थे कार्यवाही में*

धार एसपी वीरेंद्र सिंह द्वारा एवं एएसपी राय सिंह नरवरिया व अजय सिंह के मार्गदर्शन में एसडीओपी प्रियंका डुडवे के निर्देशन में अवैध शराब माफियाओं एवं अवैध शराब बिक्री की रोकथाम हेतु टीम गठित की गई थी। जिसमें थाना प्रभारी सीबी सिंह उनि इलाप सिंह मुझाल्दे प्र.आर. अनुज,रामचंद्र, आर. मुकाम,अमित,संदीप,कुंदन, दीपेन्द्र, खेमचंद,राहुल,रेलसिंह, एवं बिशन थे।

LEAVE A REPLY