Home इंदौर एहसास-6

एहसास-6

395
35
SHARE

“एहसास” की सातो नायिकाएं आज बहुत खुश थी। आप सभी के सुझावों से उनके जीवन में उमंग, उत्साह, उल्लास और ऊर्जा का नया रंग आया है, आपके लिए उन्होंने धन्यवाद प्रेषित किया है। तो आइये जानते है, बदलाव के चमकते रंगो को..

पहली नायिका “सुनिधि” ने अब तय किया है की वो घर-परिवार के साथ-साथ अपनी खुशियों का भी ख्याल रखेगी। इसकी शुरुआत उसने अपने लिए अपनी पसंदीदा कॉटन की साड़ी गिफ्ट कर, कर दी है।

दूसरी नायिका “मुग्धा” ने अब तय किया है की दैनंदिन कामकाज से समय मिलने पर अपने पतिदेव के साथ भी समय व्यतीत करेगी एवम् उनकी भावनाओ का सम्मान करेगी। इसकी शुरुआत उसने अपने पतिदेव के लिए उनकी पसन्दीदा जगह डिनर की योजना बनाकर कर दी है।

तीसरी नायिका “निकिता” ने अब तय किया है की अपनी उम्र को अपने हुनर के बीच कभी दिवार नही बनने देगी। इसकी शुरुआत उसने एक संगीत अकादमी का प्रवेश फार्म भर, कर दी है।

चौथी नायिका “भूमि” ने अब तय किया है की अपने बच्चे के लालन-पालन के साथ ही नौकरी भी करेगी। किसीके कुछ भी कह देने से अपने व्यक्तिगत निर्णय प्रभावित नही होने देगी। इसकी शुरुआत उसने लिखे हुए इस्तीफे को फाड़कर, कर दी है।

पांचवी नायिका “गीतिका” ने अब तय किया है की बिना पैर पीछे किए वो रिश्तों को समझने का प्रयास करेगी। इसकी शुरुआत उसने अपनी सासू माँ को अपनी “सहेली माँ” बनाकर कर दी है।

छठी नायिका “विजेता” ने अब तय किया है की अपने कैरियर को प्राथमिकता देकर अपने भविष्य की योजना बनाएगी। इसकी शुरुआत उसने थोपे जाने वाले रिश्ते के लिए न कहकर, कर दी है।

सातवीं नायिका “चंचला” ने अब तय किया है की वो अपनी माँ के साथ बीते हुए समय का भी प्यार बांटेगी। इसकी शुरुआत उसने, उन्हें कुछ दिन अपने घर में सस्नेह रहने के लिए आग्रह कर, कर दी है।

तो ये है हमारी सातो नायिकाएं जिनके जीवन में आप सभी के प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष सहयोग से सकारात्मक परिवर्तन आया है। आप सभी से आग्रह, केवल इतना की जीवन में एक बात को सदैव साथ लेकर चले की “समस्या है तो समाधान होगा ही” , बस इसी में सफल जीवन का सार है। आइये हम भी अपने जीवन में नई ऊर्जा और उमंग के रंगो के साथ कदमताल करें..

शुभेच्छु
माला महेंद्र सिंह

LEAVE A REPLY