Home एक्सक्लूसिव उम्मीद… एसडीएम कुक्षी: इंसान ही रहते है जहाँ कचरे का अड्डा बना...

उम्मीद… एसडीएम कुक्षी: इंसान ही रहते है जहाँ कचरे का अड्डा बना रखा समझदारों… “मार्ग को कचरे से दफना दिया”

6661
188
SHARE

उम्मीद… एसडीएम कुक्षी

*इंसान ही रहते है जहाँ कचरे का अड्डा बना रखा समझदारों*
—————————————————
*मार्ग को कचरे से दफना दिया*
—————————————————
✍🏽सोमेश्वर पाटीदार-जनादेश पर नज़र👁
📞…9589123578

*कुक्षी।*कई बार उम्मीद कर नगर परिषद कुक्षी के वार्ड-9 के रहवासियों सहित पार्षद द्वारा भी लिखित में शिकायत किये जाने के बाद भी समस्या का निदान नही किया गया।गत माह 11 जनवरी को उम्मीद रखने वाले रिशव गुप्ता एसडीएम (आईएएस)कुक्षी से भी पार्षद श्रीमती निर्मला सोहन ब्रजवासी सहित रहवासियों ने उम्मीद करते हुए लिखा कि, एक तरफ जहाँ सरकार स्वच्छता अभियान चला रही है वही नगर परिषद कुक्षी सरकार की मंशाओं को ठेंगा दिखाकर बंटाढार करने में लगी है। वार्ड-9 गवली मोहल्ला में लोगों के घरों के आगे कचरे का अड्डा बना रखा है। जहाँ आसपास का सड़ा, गला कचरा डाला जाता है और मोहल्ले वासीयों को बीमारी व गंदगी से परेशान होना पड़ रहा। इस पत्र में यह भी उल्लेख किया गया कि पूर्व में भी महिलाओं द्वारा नगर परिषद के कर्मचारी/अधिकारियो का घेराव कर समस्या से अवगत करवाया जा चूका। तब 1 माह में समस्या का निदान करने का आश्वासन भी दिया गया था। जहाँ कचरे का अड्डा बना रखा वह कापसी व वर्तमान में बायपास जाने का मार्ग हुआ करता था लेकिन समझदारों की डेढ़ अक़्ली के कारण अधूरे नाला निर्माण व कचरे से मार्ग दफन होते तक ध्यान नही दिया। इस प्रकार उम्मीद करते हुए एक माह गुजर गया कि, बायपास मार्ग को पुनः चालू कर आवागमन में सुविधा करवाये। लेकिन अब तक हालात वही बने हुए है और रहवासियों की उम्मीद पूरी नही हुई। इसलिए विशेषकर रिशव गुप्ता एसडीएम (आईएएस)कुक्षी से फिर एक उम्मीद करता हूँ कि, किसी से उम्मीद करते हो तो कोई तुमसे भी उम्मीद करते है… और उम्मीदों पर खरे न उतरो तो उम्मीद न किया करो… पर हाँ… यह नगर वासी तुमसे उम्मीद करेगें क्योकि एसडीएम कुक्षी जो हो… ओके… फिर मिलेंगे उम्मीद भरी पूर्ण-अपूर्ण उम्मीदों को दिखाती खबर के साथ…

LEAVE A REPLY