Home इंदौर शिवराज की सभा कुक्षी में गिरा कांग्रेस का 1 विकेट, कांग्रेसी जिला...

शिवराज की सभा कुक्षी में गिरा कांग्रेस का 1 विकेट, कांग्रेसी जिला पंचायत सदस्य वीरेंद्र बघेल ने थामा भाजपा का दामन : बालमुकंद-बुंदेला बाहर से एक, अंदर से…? *टिकिट वितरण में कांग्रेस ने भी की योग्य उम्मीदारों की उपेक्षा, मनावर में बागी लक्ष्मी जाट निर्दलीय मैदान में* “धार में टाइगर विक्रम वर्मा व जिलाध्यक्ष डॉ राज बर्फा को अशोक जैन सहित बागी प्रत्याशियों ने दिखाई ज़मीन” # *कुक्षी के गायत्री मन्दिर सरोवर सौंदर्यीकरण के नाम पर स्वार्थियों बंद करो राजनीति, स्थानीय जनांदोलन की दरकार

783
27
SHARE


✍🏽सोमेश्वर पाटीदार-प्रधान संपादक👁
*www.janadeshparnazar.com*
*📞9589123578*

*✒खड़ी कलम…*
“”””””””””””””””‘”‘””””””””””

*तारीख…* मतदान की नज़दीक आते ही राजनीतिक दल भाजपा-कांग्रेस में गर्मागर्मी देखी जा रही है। कांग्रेस ने गत दिवस विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह व युवा कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुणाल चौधरी को जिले में रोड शो व सभाएं करवा कर मतदाताओं से कांग्रेस उम्मीदवारों के पक्ष में मतदान करने की अपील की गई।

वहीं, भाजपा से प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार चौहान व कईं भाजपा के विधायक व पदाधिकारियों के साथ ही लगातार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी गर्मजोशी से मैदान में उतर कर सभा व रोड शो कर रहे। कुक्षी की सभा में पिछले समय से लगातार कांग्रेस छोड़ भाजपा में आऊँ-आऊँ करते हुए शिवराज के समक्ष जिला पंचायत सदस्य वीरेंद्र सिंह बघेल ने भाजपा का दामन थाम ही लिया।

कुक्षी सभा मे शिवराज ने कहा कि, गायत्री मन्दिर सरोवर सौंदर्यीकरण को सरकार द्वारा भेजे गए रुपयों को कांग्रेस की परिषद ने भृष्टाचार कर ठिकाने लगा दिया। सवाल यह उठता है कि, विपक्ष में बैठे भाजपाई चुप्पी साधे परिषद में क्यों बैठे रहे ? परिषद में या जनता दरबार मे राशि ठिकाने लगाने के मामले को सामने क्यों नही लाये ? जबकि, राशि अधूरी आई है, आप भी चुनावी चकलस में झूठ बोल गए शिवराज। निश्चित रूप से घटिया निर्माण भृष्टाचार का परिचय दे रहा। किंतु सीमांकन के आड़े कोंन आ रहा व ड्रेनेज लाइन के आड़े कोंन आ रहा, यह जानकारी भी तो जनता को सभा मे सुना देते शिवराज ?

धार की बात करें तो यहां कांग्रेस के 2 गुटों में बटे आपस में घोर विरोधी जिलाध्यक्ष बालमुकुंद गौतम व मोहन सिंह बुंदेला में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने पिछले दिनों सुलह करवा दी थी। लेकिन अंदर खाने सतह के नीचे धधकती गुटीय आग समाप्त हुई या नहीं बड़ा सवाल है ? वहीं स्वयम्भू टाइगर राष्ट्रीय नेता कहलाने वाले विक्रम वर्मा की भी अकड़ को हिंदूवादी बागी निर्दलीय प्रत्याशी अशोक जैन ने नगर के मतदाताओं के बीच रगड़ कर रख दिया। जनसम्पर्क के दौरान धार में भाजपा प्रत्याशी अनिल जैन को भी जूते की माला पहनाने की तैयारी थी। परंतु बदलकर पतली गली से निकल लिए। अशोक जैन को बिठाने के लिए भाजपा जिलाध्यक्ष बर्फा, विधायक मेंदोला व प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार चौहान ने भी भारी प्रयास किये पर किसी भी प्रकार के लॉलीपॉप या दिलासे प्रभावित नही कर पाए।

मनावर में बागी भाजपाई दिनेश शर्मा ने अपनी ताकत दिखाई तो, कांग्रेस की जमीनी नेता लक्ष्मी जाट भी नाराज़ होकर निर्दलीय चुनावी मैदान में कूद कर कांग्रेसी गुटबाजी को साबित कर दिया। बता दें श्रीमती लक्ष्मी जाट योग्य व मिलनसार नेत्री होने के बावजूद कांग्रेस द्वारा उपेक्षित हुई, जिसका हर्जाना कांग्रेस को भी कही न कही भरना पड़ सकता है।

LEAVE A REPLY