Home इंदौर शेखी न दिखा, अपनी औकात में रहे विधायक भंवर सिंह शेखावत :...

शेखी न दिखा, अपनी औकात में रहे विधायक भंवर सिंह शेखावत : अपेक्स बैंक में किये कु-कर्मो का चिट्ठा लोकायुक्त के पास और तेरे भी कमीज़ पर दाग ही दाग “मिशन-2018 तो आने दो… वेलसिंह व शेखावत की होगी नपती, लग जायेगा ठिकाना”

4808
417
SHARE

✍🏽सोमेश्वर पाटीदार-प्रधान संपादक👁
📞9589123578

*✒खड़ी कलम…*
“”””””””””””””””‘”‘””””””””””

*युवा* विधायक वेलसिंह भूरिया विळ-विळ कर रहा, वहीं बुड्ढा विधायक भंवर सिंह शेखावत सठिया गया। एक पखवाड़ा भी नही बिता सरदारपुर विधायक वेलसिंह की बदजुबानी की घटना का। जिसका जिलेभर के पत्रकारों ने विरोध स्वरूप ज्ञापन व धरना प्रदर्शन किया था।

सत्ताधारी दल भाजपा के सरदारपुर के बाद अब बदनावर विधायक शेखावत ने एक समाचार-पत्र के ही कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि उगलते हुए मीडिया को बिकाऊ कह डाला। साथ ही कहा- अब समाचार-पत्रों को ख़बर से कोई मतलब नही रह गया। अब तो केवल यह व्यवसाय बन गया है। चुनाव में पैकेज के नाम पर वसूली की बात कही। पैकेज लेकर ही एक पेज पर दोनों पार्टियों को निपटा देने की अशोभनीय बात कही।

तो शेखावत जरा यह तो बताये की कितनो को खरीदा और वह कोंन है जो तेरी मंडी में बिक गया ? तेरे जैसो के राजनीति में होने से अब जनसेवा कहा रह गई, वह भी तो रंडी का रुमाल बन गई ? रही बात खबरों के रहने की तो अब खबरें ही नही मिशन- 2018 में राजनीतिक कबरे भी दिखेगी। बात करे पैकेज की तो चुनाव में पानी की तरह पैसा बहाने को आता कहा से है ? खुद यह क्यो भूल गया कि, लोकायुक्त ने अपेक्स बैंक में किये तेरे कु-कर्मो पर भी आईना दिखाया है ? दो पार्टी ही नही, पत्रकार तो हर मंच पर जाएगा। पर तुम कु-नेता क्यों अगले-पिछले दरवाजे से बिस्तर बदलते रहते हो ?

पत्रकारों के लिए चिंतन का समय है, कल वेलसिंह तो आज शेखावत ने अपनी शेखी दिखाई। जिसे लेकर बदनावर में पत्रकारों द्वारा विरोधस्वरूप ज्ञापन भी दिया गया। उठाते है तो गिराने का साहस भी चौथे स्तम्भ में है। इसलिए वेलसिंह के बाद इसका भी पुरजोर विरोध होना चाहिए…

LEAVE A REPLY