Home इंदौर डूब प्रभावितों को न्याय दिलाने अनिश्चितकालीन अनशन करेंगी मेधा पाटकर

डूब प्रभावितों को न्याय दिलाने अनिश्चितकालीन अनशन करेंगी मेधा पाटकर

4990
23
SHARE


भोपाल।नर्मदा बचाओ आंदोलन की प्रमुख और अब डूब प्रभावितों को अपना हक दिलाने वाली मेधा पाटकर ने भाजपा सरकार पर निशाना साधा है। पाटकर ने आज राजधानी भोपाल में प्रेसवार्ता कर सीएम शिवराज और केन्द्र में बैठी मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला है। साथ ही कानून और नियमों का उलंघन करने वाला बताया है।

पाटकर ने शिवराज सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि सरकार सरदार सरोवर बांध के विस्थापितों का दमन कर रही है। विकास के नाम पर लोगों को छला जा रहा है। न्याय और कानून के ऊपर सरकार काम कर रही है। डूब प्रभावितों को हटाने की कोशिश कर रही है। लेकिन हम ऐसा नही होने देंगे।हम सरकार से बात करने की कोशिश कर रहे है परंतु सरकार हमसे बात करने को राजी नहीं हो रही। पुलिस प्रशासन द्वारा हमें रोका जा रहा है, प्रभावितों को न्याय के बजाय उनका दमन किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि बिना पुनर्वास के सरकार को घर खाली कराने का आदेश नहीं है, लेकिन यह दमनकारी सरकार को न तो किसी कानून की परवाह है और न ही किसी आदेश की।

मेधा पाटकर ने ऐलान किया है कि 27 जुलाई से सामूहिक अनिश्चित कालीन अनशन करेंगी। नर्मदा किनारे ये अनशन जारी रहेगा। जब तक इस समस्या का हल नहीं निकल जाता वे इस अनशन को जारी रखेंगी।

उन्होंने यह भी आरोप लगाए कि शासकीय राजपत्र सूची में 141 गांव के 18386 परिवारों को गांव छोडना होगा, परन्तु इस सूची में गांव में न रहने वाले, दशकों पहले गांव छोडकर चले गए और बैकवाटर लेवल बदलकर जिन्हें डूब से बाहर कर दिया गया है, उनके नाम सम्मिलित हैं। जबकि वर्षो से निवासरत, घोषित विस्थापितों को छोड दिया गया है।

LEAVE A REPLY