Home इंदौर विधायक के बयान पर भड़के किसान, गाडरवाड़ा मंडी परिसर में लगाई आग

विधायक के बयान पर भड़के किसान, गाडरवाड़ा मंडी परिसर में लगाई आग

3262
131
SHARE

नरसिंहपुर। मध्यप्रदेश में किसानों का पारा उग्र होता जा रहा है। हालात ये हैं कि किसी के भी अंट शंट बयान पर अन्नदाता अपमान सहने के विरोध में आगजनी तक पर उतारू होते जा रहे हैं। ऐसा ही नजारा बुधवार को नरसिंहपुर की गाडरवाड़ा मंडी में देखने को मिला जब किसानों ने ​विधायक गोविंद सिंह पटेल को अपने बयान पर माफी मांगने के लिए कहा। विधायक के बिगड़े बोल के कारण किसान आक्रोशित हो उठे। जिसके बाद उन्होंने मंडी परिसर में रखे एक टायर में आग लगा दी।

दरअसल, विधायक ने कहा थे कि एक पान में बिक जाता हैं किसान। किसानों के अनुसार उनका बयान अन्नदाता के सहज व्यवहार पर कुठाराघात है। उनकी टिप्पणी का विरोध करते हुए बड़ी संख्या में किसानों ने एकजुटता के साथ विरोध प्रदर्शन किया। किसान ट्रैक्टर ट्राॅलियों सहित विरोध प्रदर्शन करने पहुंचे। इसके बाद कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक भी मौके पर पहुंच गए थे।

गाडरवारा मंडी में बीते कई दिनों से किसान अपनी उपज लेकर नहीं आ रहे थे जिसके बाद सोमवार शाम से मंडी में समर्थन मूल्य पर किसानों की राहर मूंग उड़द की खरीदी मार्केटिंग सोसायटी के माध्यम से आरंभ कराई गई। मंगलवार को भी बड़ी मात्रा में अनाज की आवक हुई लेकिन देर शाम किसान के नाम पर किसी व्यापारी का माल तौले जाने के आरोप लगाते हुए किसानों ने मंडी में हंगामा किया एवं नारेबाजी की। हालात का जायजा लेने आए विधायक के किसी किसान विरोधी बयान पर किसान नेता आक्रोशित हो उठे और विधायक से माफी मांगने पर अड़े रहे। जिसके बाद विधायक ने अपने बयान पर खेद जताया।

LEAVE A REPLY