Home इंदौर दवे ने वसीयत में लिखा, मेरा स्मारक मत बनवाना, पेड़ लगाना

दवे ने वसीयत में लिखा, मेरा स्मारक मत बनवाना, पेड़ लगाना

3946
160
SHARE

भोपाल। राज्यसभा सांसद और केंद्रीय मंत्री अनिल माधव दवे की लंबी बीमारी से निधन होने के बाद उनकी वसीयत भी अब सामने आ गई है। आमतौर पर सादा जीवन जीने वाले अनिल माधव दवे ने अपनी वसीयत में लिखा है कि संभव हो सके तो मेरा अंतिम संस्कार होशंगाबाद जिले के बांद्राभान में नदी महोत्सव वाले स्थान पर कराना।

इसके अलावा दवे ने अपनी वसीयत में लिखा कि अंतिम संस्कार की सभी उत्तर क्रिया वैदिक कर्म के साथ ही संपन्न कराई जाए, जिसमें किसी भी प्रकार का आडंबर या दिखावा नहीं किया जाए।

उन्होंने अपनी वसीयत में मुख्य रूप से इस बात का उल्लेख किया है कि मेरी मौत के बाद मेरी स्मृति में कोई स्मारक, प्रतियोगिता, पुरस्कार, प्रतिमा आदि न स्थापित की जाए।

उन्होंने आगे अपनी वसीयत मे कहा कि जो भी मेरी स्मृति में कुछ करना चाहते हैं तो वृक्ष लगाने और उन्हें संरक्षित करने का प्रयास करेंगे तो मुझे आनंद होगा। इसके अलावा नदी व जलाशयों को भी अपने सामर्थ्य के अनुसार संरक्षित करने का प्रयास करें

LEAVE A REPLY